Articles

https://astrosumittiwari.com/wp-content/uploads/2018/02/dark_top_divider.png
https://astrosumittiwari.com/wp-content/uploads/2022/07/whatsappimage20200920at165209-33.jpeg

समुद्र-मंथन के समय समुद्र से जो १४ रत्न निकले, उनमें एक शंख भी है; इसलिए इसे ‘समुद्रतनय’ कहते हैं और यह लक्ष्मीजी का भाई माना जाता है । शंख में साक्षात् भगवान श्रीहरि का निवास है और वे इसे सदैव अपने हाथ में धारण करते हैं । मंगलकारी होने व शक्तिपुंज होने से अन्य देवी-देवता...

July 1, 2022Blogby Astro Sumit
https://astrosumittiwari.com/wp-content/uploads/2022/06/maxresdefault-1.jpg

भगवान के नाम की महिमा अनंत हैं उसे वाणी से कह पाना संभव नहीं। जिस पर भगवान स्वयं कृपा करदे वो ही व्यक्ति उनके नाम की महिमा को प्रकट कर सकता हैं। भगवान का नाम जपने से क्या होगा ? ऐसा लोगो का प्रश्न हो सकता है। किंतु भगवान का नाम जपने से क्या नही...

June 28, 2022Blogby Astro Sumit
https://astrosumittiwari.com/wp-content/uploads/2022/04/depression-1.jpg

आज के तेजी से बढ़ते समय में सभी को बहुत सी परेशानियों का सामना करना पढ़ता हैं। जिसमें कुछ लोग तो इससे लड़ जाते हैं और कुछ लोग बहुत ही जल्दी नकारात्मकता के शिकार हो कर अवसाद (Depression) या मनोरोग के शिकार हो जाते हैं। अधिकतर लोगों को यही कहते सुना हैं कि जिंदगी में...

April 22, 2022Blogby Astro Sumit
joker สล็อตufa007